ठगी करने वाले तरह तरह की तरकीब भिड़ाते हैं. लेकिन आगरा के एक शख्स ने तो हद ही कर दी. उसने ठगी करने के लिए खुद को गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) का रिश्तेदार बताया और विधायक से ही ठगी करने लगा. लेकिन विधायक जी भी कम होशियार नहीं थे. वो तुरंत समझ गए कि ये कथित रिश्तेदार महोदय नकली हैं. उन्होंने चुपचाप पुलिस को बुला लिया.

ये भी पढ़ें कैंसर मरीज बन कर लोगों को किया भावुक, डोनेशन से जमा हुए साढ़े 8 लाख रुपये तो निकल गई हनीमून पर

घटना है आगरा की. ठग का नाम था विराज शाह. उसने आगरा दक्षिण विधानसभा के विधायक योगेंद्र उपाध्याय को जाल में फंसा का ठगना चाहा. विराज शाह पांच-छह दिनों से उपाध्याय को फोन कर कह रहा था कि वह गृह मंत्री अमित शाह का रिश्तेदार है.

विराज शाह ने कहा था कि शाह फैमिली (अमित शाह) को आगरा में एक होटल खरीदना है. इसी सिलसिले में रविवार को विराज विधायक के घर आया और बातचीत करने के बाद उसने कुछ शॉपिंग करने की इच्छा प्रकट की. इसके बाद वह शॉपिंग करने के लिए विधायक पुत्र के साथ मार्केट चला गया.

विराज शाह ने बाजार में एक रेडीमेड गारमेंट्स की दुकान से 40 हजार की खरीददारी की और विधायक पुत्र से भुगतान करने को कहा. विधायक पुत्र ने जब अपने पिता को फोन पर यह सारी बात बताई, तो योगेंद्र उपाध्याय को शक हुआ तो विधायक ने गूगल पर विराज शाह की जानकारी हासिल की तो उन्हें पता चला कि यह व्यक्ति पहले भी फ्रॉड कर चुका है.

गूगल पर जानकारी लेने के बाद उन्होंने अपने बेटे से कहा कि कपड़े घर भिजवा दो और विराज शाह को लेकर घर पहुंच जाओ. जब विराज शाह विधायक जी के घर पहुंचा तो थाना नाई की मंडी पुलिस उसका इंतज़ार कर रही थी. उसे दबोच लिया गया.