सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत का क्या राज है ये अब तक नहीं खुला है और ऐसा लगता है कि मुंबई पुलिस इस राज को खुलने देना भी नहीं चाहती. मुंबई पुलिस दोषियों को बचाने के लिए हर सीमा पार कर रही है. मुंबई अब ये साफ़ हो गया है कि मुंबई पुलिस पूरे मामले में किसी बड़ी मछली को बचा रही है, इसलिए वो नहीं चाहती बिहार पुलिस मामले की जांच करे. क्योंकि ऐसा करने पर कोई बड़ा राज खुल सकता है.

ये भी पढ़ें दिशा की केस फ़ाइल डिलीट होने के बाद सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी बड़ा झोल आया सामने

सुशांत की एक्स मैनेजर दिशा सालियान की केस फ़ाइल डिलीट करने के बाद अब मुंबई पुलिस ने मामले की जांच करने मुंबई आए पटना (Patna) के एसपी सिटी विनय तिवारी (Vinay Tiwari) को BMC से क्वारनटीन करवा दिया है. विनय तिवारी को 14 दिनों के लिए क्वारनटीन किया गया है. बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडे ने खुद इसकी जानकारी दी.

ये भी पढ़ें ताहिर हुसैन ने दिल्ली पुलिस के सामने कबूल किया ‘मैं ही हूँ दंगों का मास्टरमाइंड, हिन्दुओं को सबक सिखाने के लिए रची साजिश’

गुप्तेश्वर पांडे ने ट्वीट करके कहा कि आज (2 अगस्त) आईपीएस विनय तिवारी ऑफिशियल ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे, लेकिन रविवार रात 11 बजे BMC अधिकारियों ने जबरन उन्हें क्वारनटीन कर दिया. उन्हें अनुरोध के बावजूद IPS Mess में आवास उपलब्ध नहीं कराया गया. वो गोरेगांव के एक गेस्ट हाउस में ठहरे हुए थे.

विनय तिवारी ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि मैं गेस्ट हाउस में क्वारंटीन हूं. वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मुंबई में मौजूद टीम के संपर्क में हूं. मुझे महाराष्ट्र सरकार का ऑर्डर दिखाया गया, जिसके बाद क्वारंटीन किया गया है. हालांकि, एयरपोर्ट पर किसी ने कुछ नहीं कहा. विनय तिवारी ने भी बताया कि अभी सैंपल नहीं लिया गया, मैं ड्यूटी पर हूं तो मुझे छूट मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अगले 14 दिन क्वारंटीन में रहने से जांच प्रभावित होगी.

विनय तिवारी को जबरन क्वारनटीन किये जाने के बाद लोग भड़क गए. ट्विटर पर #बेबी पेंग्विन ट्रेंड कर रहा है.