सुशांत सिंह राजपूत मामले में जैसे जैसे बिहार पुलिस की जांच आगे बढ़ रही है, वैसे वैसे मुंबई पुलिस की हरकतें और अब तक की जांच संदेह में घेरे में आ रही है. अब ऐसा लग रहा है जैसे मुंबई पुलिस कुछ छुपाने या फिर किसी को बचाने की कोशिश कर रही है.

बिहार पुलिस (Bihar Police) अब सुशांत (Sushant Singh Rajput) और उनकी एक्स मैनेजर दिशा सालियन (Disha Salian) के मौत को एक दुसरे से लिंक करने में जुटी है. ये जांच की एक अहम कड़ी थी जिसे मुंबई पुलिस ने मिस कर दिया या फिर यूँ कहें कि जानबूझ कर इग्नोर कर दिया. बिहार पुलिस को लगता है कि सुशांत और दिशा की मौत में कुछ राज जुड़े हो सकते हैं. इसकी तह तक जाने के लिए पुलिस ने मुंबई के मालवणी पुलिस स्टेशन से FIR और Postmortem रिपोर्ट मांगे हैं.

आज तक की रिपोर्ट के मुताबिक़ शन‍िवार शाम बिहार पुलिस की टीम मालवणी पुलिस थाने में दिशा साल‍ियन की अप्राकृतिक मौत के बारे में पूछताछ करने गई. मुंबई पुलिस के जांच अधिकारी ने सभी विवरण साझा करने की बात कही, लेकिन उसी समय एक कॉल मिलने के बाद चीजें बदल गईं. उन्होंने बिहार से आई टीम को बताया कि दिशा के विवरण वाले फोल्डर को “अनजाने में डिलीट कर दिया गया है” और इसे नहीं ढूंढ सकते.

जब बिहार पुलिस ने कहा कि वे फाइल को दोबारा प्राप्त करने में उनकी मदद कर सकते हैं, तो उन्होंने अपना लैपटॉप उन्हें देने से इनकार कर दिया. बिहार के अधिकारियों को मुंबई पुलिस ने पेड लीव का आनंद लेने और मामले की जांच नहीं करने के लिए कहा, क्योंकि राजनेता आपस में लड़ रहे हैं. आज बिहार पुलिस दिशा के परिवार के सदस्यों के बयान लेने गई थी लेकिन परिवार का कोई सदस्य मौजूद नहीं मिला. बिहार पुलिस चाबी बनाने वाले को ढूंढ रही है जिसने एक्टर के कमरे के दरवाजे का लॉक खोला था.