ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हो जाने से और कमलनाथ सरकार के खतरे में आ जाने से कांग्रेसी काफी गुस्से में हैं. भोपाल में कांग्रेसियों ने ज्योतिरादित्य सिंधिया चोर है के नारे लगाए और उन्हें काले झंडे दिखाए. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तो ये भी आरोप लगाया कि ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जानलेवा हमला किया गया और उनके काफिले पर पत्थर बरसाए गए. यह घटना भोपाल के वीआईपी रोड पर शुक्रवार की शाम को हुई.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भोपाल में सिंधिया की गाड़ी को रोकने की कोशिश की गई. ज्योतिरादित्य सिंधिया किसी तरह से जान बचाकर निकले हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी सिंधिया पर हुए जानलेवा हमले की जांच की मांग करती है. शिवराज सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बहुत खराब हो गई और अराजकता फैली हुई है.

उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा के बीजेपी के उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया पर जानलेवा हमला करने के लिए उनकी गाड़ी पर चढ़ने का प्रयास किया गया. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि क्या राज्य में सत्ता खोने से बौखलाई सरकार सिंधिया पर जानलेवा हमला करवा रही थी.

शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि ज्योतिरादिय सिंधिया के साथ हुई घटना को देखते हुए अंदाजा लगाया जा सकता है कि मध्यप्रदेश में हालात कितने खराब हो चुके हैं. क्या इस घटना के पीछे यह सरकार है, जो कि बहुमत खो चुकी है? उन्होंने इस घटना की जांच कराने की मांग की है.