देश के सबसे बड़े नाकाम नेता, कांग्रेस के युवराज और भारत का पीएम बनने का सपना देख रहे राहुल गांधी (Rahul Gandhi) नए साल की छुट्टियां बनाने के लिए इटली (Italy) की फैशन सिटी मिलान के लिए रविवार को रवाना हो गए. लेकिन रवाना होने से पहले उन्होंने सिंघु बॉर्डर पर ठंड में बैठे किसानों के लिए वीर रस से ओत प्रोत एक कविता ट्वीट की और उन्हें ठंड में वहीं जमे रहने के लिए प्रेरित किया. इसको लेकर लोगों ने ट्विटर पर राहुल गांधी की धज्जियां उड़ा दी. ट्विटर पर इटली और मिलान ट्रेंड भी करने लगा.

देश मे जब भी कोई बड़ी घटना चल रही होती है तब राहुल गांधी विदेश निकल लेते हैं. इसी बात से समझा जा सकता है कि वो कितनी गंभीरता से राजनीति करते हैं और देश मे प्रमुख मुद्दों को कितनी गंभीरता से लेते हैं. किसान आंदोलन की बात छोड़ भी दें तो सोमवार 28 दिसंबर को कांग्रेस का 136वां स्थापना दिवस है. आज पार्टी का झंडा फहराया जाता है और देश भर के कांग्रेस दफ्तरों में कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं. लेकिन राहुल गांधी ने तो अपनी पार्टी के लिए भी रुकना जरूरी नही समझा. वो भी टैब जब पार्टी में उन्हें फिर से अध्यक्ष बनाये जाने की मांग उठ रही है और उनका फिर से अध्यक्ष बनना लगभग तय भी है.

सोशल मीडिया पर राहुल गांधी को इतना ट्रोल किया गया कि उनके खासमखास रणदीप सिंह सुरजेवाला को बताना पड़ा कि राहुल गांधी निजी कारणों से विदेश यात्रा पर गए हैं.

ख़ैर, राहुल जी जिस भी कारण से गये हों, लोगों ने तो ट्विटर पर उनकी धज्जियां उड़ा दी. खुद देखिए