पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) के बीच योगी सरकार ने यूपी वालों पर ऐसा प्रहार किया है जिसके सामने उन्हें कोरोना का प्रहार भी शून्य लगेगा. दरअसल योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में पान-मसाला और गुटका पर प्रतिबन्ध लगा दिया है. न तो बनेगा और न बिकेगा. दरअसल लोग पान-मसाला खा कर यहाँ वहां थूकते रहते हैं जिससे कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा सबसे ज्यादा हो जाता है. कानपुर और नोएडा में पान-मसलों का उत्पादन बड़े पैमाने पर होता है.

मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी अवनीश अवस्थी ने कहा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि गुटखा, पान मसाला और पान पर प्रतिबंध लगाया जाए. उन्होंने कहा कि लोग गुटखा और पान मसाला खाकर सरकारी दफ्तरों, बाजारों और सार्वजनिक स्थानों में थूकते हैं. इससे गंदगी तो फैलती ही है, इस वक्त कोरोना वायरस के संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है. ये रोक अगले आदेश तक जारी रहेगी.

इसके अलावा योगी सरकार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि लोगों के घरों तक सामान पहुँचाना उनकी जिम्मेदारी है. यूपी सरकार ने लोगों से अपील की है कि वे घरों से एकदम बाहर न निकलें. यूपी प्रशासन लोगों के घरों तक सामान पहुंचाएगा.