फेक न्यूज फैलाने की वजह से इंडिया टुडे (India Today) से दो हफ़्तों के लिए बाहर किये गए राजदीप सरदेसाई (Rajdeep Sardesai) की वापसी हो गई. लोग भड़क उठे. लोगों का भड़काना स्वाभाविक भी था क्योंकि कोई एक बार फेक न्यूज फैलाए तो वो उसकी गलती हो सकती है लेकिन बार बार फेक न्यूज फलाने वाले उसे अपनी आदत बना लेते हैं. लिहाजा राजदीप की वापसी के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया. जिसके बाद इंडिया टुडे राजदीप के बचाव में सामने आ गया.

ये भी पढ़ें तांडव में देवी-देवताओं के अपमान पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अमेजन प्राइम की इंडिया हेड की अग्रिम जमानत याचिका की खारिज

इंडिया टुडे ने उन लोगों को ब्लॉक करना शुरू कर दिया जो राजदीप को दलाल या कुछ और कह रहे थे. दरअसल राजदीप सरदेसाई ने अपने नए कार्यक्रम के बारे में ट्विटर पर लिखा तो किसी ने उन्हें दलाल लिख दिया. इस पर इंडिया टुडे ने जवाब देते हुए लिखा, ‘इंडिया टुडे समूह सोशल मीडिया पर उन ऑडिएंस के प्रति प्रतिबद्ध है जो आपकी भाषा अपमानजनक और असाधारण मानते हैं. इसलिए हम आपके हैंडल को ब्लॉक कर रहे हैं. बतौर लीडर, हमारी जिम्मेदारी है कि हम रचनात्मक बातचीत और शालीनता के साथ असंतोष के लिए इस मंच को सुरक्षित रखें.’

उसके बाद लोगों ने इंडिया टुडे से जुड़े अन्य एंकर्स को भी ट्रोल करना शुरू किया तो सबके जवाब में इंडिया टुडे ने पोस्ट करना शुरू कर दिया कि आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने वालों को ब्लॉक कर दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें राजदीप ने लिखा ‘प्रियंका गाँधी को उनका घर खाली करने को कहा गया’ लोग बोले ‘टेम्पो ले कर चला जा’

इसके बाद लोगों ने इंडिया टुडे का छीछालेदर कर डाला. ट्विटर पर #Dalal ट्रेंड करने लगा.

ये भी पढ़ें ग्रीड फेल नहीं हुआ तो पागल हो गए राजदीप सरदेसाई. दीवाली को देने लगे गाली