पढ़े लिखे जाहिल को देखा है आपने? अगर नहीं देखा तो बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) को देख लीजिये. ये मोहतरमा 16 मार्च को लन्दन से आई. बाथरूम में छुप कर एयरपोर्ट से बिना स्क्रीनिंग के भाग निकली. उसके बाद लखनऊ पहुंची और एक पार्टी में शामिल हुई. उस पार्टी में 300 से 400 लोग शामिल हुए थे. नेता और बड़े बड़े अधिकारी भी उस पार्टी में आये थे. और अब कनिका कपूर को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. अब उन 100 लोगों की तलाश की जा रही है जो उस रात पार्टी में शामिल हुए थे.

अब अकेली सरकार क्या कर लेगी जब पढ़े लिखे सेलेब्रेटी टाइप लोग ऐसे जाहिलों वाली हरकत करेंगे, ऐसी बकचोदी और चुतियापा करेंगे. सरकार लोगों से लगातार कह रही है खुद को आइसोलेट कीजिये, विदेश से आ रहे हैं तो स्क्रीनिंग करवाइए. लेकिन लोग हैं कि सुनने को तैयार नहीं है. ऊपर से इन लोगों को सरकार और देश से शिकायत भी है.

कनिका कपूर जैसे लोग पुरे देश के लिए खतरा है और उसकी हरकत किसी आतंकी से कम नहीं है. अपनी जान की उसे कोई परवाह नहीं है लेकिन उसने 100 से अधिक लोगों को खतरे में डाल दिया है. जिस अपार्टमेंट में वो रहती है वहां हडकंप मचा हुआ है. जिस अपार्टमेंट में वो रहती है उस अपार्टमेंट के सभी लोगों को सेल्फ क्वारंटीन करने को कहा गया है. कई लोगों के सैम्पल के कर जांच के लिए भेजा गया है. कई लोग अपार्टमेंट छोड़ कर जा कर रहे हैं.

काण्ड करने के बाद कनिका ने इन्स्टाग्राम पर सफाई दे रहीं है कि जब मैं लन्दन से वापस आई थी तब ठीक थी लेकिन पिछले चार दिनों में मुझमे लक्षण दिखाई देने लगे. इसलिए मैंने जांच कराया है और खुद को सेल्फ क्वारंटीन किया है.